.

भाजपा प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम को राहत; रांची हाईकोर्ट ने लगाई गिरफ्तारी पर रोक, कांग्रेस ने कहा था- बलात्कारी, BJP बोली- सत्यमेव जयते | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

रायपुर | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | प्रदेश में हो रहे भानुप्रतापपुर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस, भाजपा के बीच सीधी टक्कर रही। चुनाव प्रचार के बीच कांग्रेस ने बीजेपी प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम को बलात्कारी hine का आरोप लगाकर सनसनी मचा दी थी। जिसके बाद दोनो तरफ से जुबानी जंग शुरू हो गई थी। भानुप्रतापपुर विधानसभा के कांग्रेस विधायक मनोज मांडवी के निधन के बाद से यह रिक्त हो गई थी, जिस पर उप चुनाव हो रहे हैं।

 

भानुप्रतापपुर में वोटिंग खत्म हो चुकी है। नतीजों का इंतजार है। इस चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम फिलहाल बड़ी राहत मिली है। झारखंड के रांची हाईकोर्ट ने ब्रह्मानंद की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है। हाईकोर्ट ने इस माले में कहा है कि अगली सुनवाई होने तक फिलहाल कार्रवाई न की जाए। सोशल मीडिया पर भाजपा और इससे जुड़े लोग सत्यमेव जयते लिखकर ब्रह्मानंद का सपोर्ट कर रहे हैं।

 

झारखंड हाईकोर्ट अगली सुनवाई की तारीख भी जल्द तय करेगा। झारखंड हाईकोर्ट के न्यायाधीश जस्टिस संजय द्विवेदी की अदालत में इस मामले की सुनवाई हुई। भानुप्रतापपुर में भाजपा के प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम की ओर से हाईकोर्ट के अधिवक्ता इंद्रजीत सिन्हा और कुमार हर्ष ने पक्ष रखते हुए अदालत में दलील दी कि इस केस में उनके मुवक्किल की कोई संलिप्तता नहीं है और न ही FIR में उनका नाम है, फिर भी पुलिस उन्हें परेशान कर रही है। वकीलों की दलील के बाद कोर्ट ने मामले की जांच करने, अलगी सुनवाई तक अरेस्टिंग करने से रोक लगाई है।

 

जमशेदपुर की पुलिस आई थी पकड़ने

 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी का प्रसारण 8 अगस्त को | Newsforum
READ

चुनाव से 5 दिन पहले झारखंड के जमशेदपुर की पुलिस ने कांकेर में डेरा डाला था। ब्रह्मानंद नेताम काे जमशेदपुर की नाबालिग से याैन शोषण का आरोपी बताया गया है। जमशेदपुर पुलिस के आते ही भाजपा ने ब्रह्मानंद नेताम को कुछ देर के लिए नजर बंद कर दिया था। इसके बाद वो प्रचार के लिए निकले। ब्रह्मानंद को कांकेर थाने में आकर पेश हाेने कहा गया था, मगर उनकी तरफ से स्थानीय वकील ने जाकर कह दिया था 8 तारीख के बाद ब्रह्मानंदद थाने आएंगे। खींच-तान के बाद जमशेदपुर की पुलिस ब्रह्मानंद के घर पर थाने आने का नोटिस लगाकर लौट गई थी।

 

ऐसे फूटा था मामला

 

प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर भानुप्रतापपुर उपचुनाव में भाजपा से प्रत्याशी बनाए गए ब्रह्मानंद नेताम को लेकर मोहन मरकाम ने कहा कि उन पर झारखंड राज्य के जमशेदपुर जिले में केस दर्ज है। 15 साल की नाबालिग से गैंगरेप कर उसे देह व्यापार में धकेलने का आरोप लगाते हुए मरकाम ने FIR की कॉपी भी मीडिया को दिखाई। घटना 2019 को बताई जा रही है। पीसीसी चीफ ने कहा कि पुलिस ने पहले 5 आरोपियों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की थी, जिसके बाद जांच में 10 से 12 आरोपी सामने आए, जिनमें भाजपा प्रत्याशी भी शामिल हैं। ”

 

मोहन मरकाम ने कहा कि जमशेदपुर के थाना टेल्को में अपराध क्रमांक 84/2019 में 15 मई 2019 को पॉक्सो एक्ट समेत कई धाराओं में ब्रह्मानंद नेताम के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। कांग्रेस ने खुलासा किया कि पीड़िता ने एक डायरी में गैंगरेप के सभी आरोपियों के नाम लिखकर रखे थे। इस मामले में झारखंड पुलिस ने छत्तीससगढ़ से संबंध रखने वाले शीतल उर्फ सपना महतो, सुरेंद्र सिन्हा को महासमुंद से 2019 में ही गिरफ्तार किया था। ब्रह्मानंद नेताम का नाम पुलिस की ओर से पेश चालान में भी शामिल है। मरकाम ने कहा कि जिस साल FIR दर्ज हुई थी, तब झारखंड में भाजपा की रघुवर दास की सरकार थी।

8वीं पास के लिए 63000 सैलरी वाली नौकरी पाने का मौका, Sarkari Naukri 2023: सिर्फ 100 रुपये में करें अप्लाई | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन
READ

 

ब्रह्मानंद बोले- तो कर लेना था न गिरफ्तार

 

खुद पर लगे आरोपों पर मीडिया से बात करते हुए ब्रम्हानंद ने कहा- यदि मैं बलात्कारी होता तो शायद क्षेत्र की जनता मुझे अपना आशीर्वाद नहीं देती। मैं लोगों के पास जब वोट मांगने पहुंचता तो मुझे भगा देते। मेरे ऊपर झूठा आरोप लगाकर राजनीतिक षड्यंत्र रचा गया है। यदि मेरी गिरफ्तारी करनी हो तो कर लीजिए। मैं तैयार खड़ा हूं।

 

ये भी पढ़ें:

Allahabad High court का जातीय रैलियां करने पर राजनीतिक दलों को नोटिस, पूछा- उल्लंघन पर क्‍यों न हो कार्रवाई | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

 

 

Related Articles

Back to top button