.

बेमेतरा जिले में अब तक 5 लाख 43 हजार 134 मेट्रिक टन धान की खरीदी | ऑनलाइन बुलेटिन

बेमेतरा | (छत्तीसगढ़ बुलेटिन) | छत्तीसगढ़ खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 हेतु खरीदी कार्य उपार्जन केंद्रों व सहकारी समितियों में संचालित हो रहा है। कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार द्वारा किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदने व धान का बोनस देने से प्रदेश में खुशहाली है और किसान भाई खुश हैं। इसी क्रम में बेमेतरा जिले के सभी 102 सहकारी समितियों के 123 उपार्जन केन्द्रों मे नियमिति रूप से की जा रही है।

खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 हेतु जिले में पंजीकृत किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का कार्य 01 दिसम्बर से किया जा रहा है। कलेक्टर श्री विलास भोसकर संदीपान के मार्गदर्शन में धान खरीदी का कार्य जिले के सभी 102 सहकारी समितियों के 123 उपार्जन केन्द्रों मे नियमिति रूप से की जा रही है। जिले में अब तक 5 लाख 43 हजार 134 मेट्रिक टन धान की खरीदी की जा चुकी है।

 

जिला विपणन अधिकारी श्री आशुतोष कोसरिया ने बताया कि आज शनिवार की स्थिति में धान उपार्जन केन्द्र हरदी में 30086, अंधियारखोर में 49528, अकलवारा में 37190, अछोली में 45600, अतरिया में 25054, आनंदगांव में 44228, आंदू में 43348, उमरिया में 53686 ,ओडिया में 27907, कंतेली में 58401.2, कटई में 56467, कठिया में 64612, कन्हेरा में 36047, कांपा में 32154, किरीतपुर में 59286, कुंवरा में 61605, कुम्ही में 28252, कुरदा में 55875, कुरूद में 27358 कुसमी में 58791, कुसमी में 41844, केंवतरा में 29762, केहका में 52774, कोंगियाकला में 26354, खण्डसरा में 47993, खाती में 45459, खिलोरा में 33917, खुड़मुड़ा में 38295, खैरझिटी में 27617, खैरझिटी में 37117, गनियारी में 36516, गाड़डीह में 60843, गुंजेरा में 46825, गुधेली में 55030, गोढ़ीकला में 47905.6, गोड़गिरी में 38134, घोटवानी में 40146, चंदनू में 45167, चक्रवाय में 12712, चेचानमेटा में 18082, चोंगीखपरी में 48148,  छिरहा में 34619.6, जंगलपुर में 24653.6, जांता में 45686, जानो में  27263, जिया में 37372, जेवरा में 31324, झाल (नवागढ़) में 58148, झाल (बेमेतरा़) में 67585, टकसींवा में 54960, टेमरी में 49541, ठेलका में 40057, डंगनिया(ब) में 44497, डुंडा में 49006, तेन्दुआ में 34027, थान खम्हरिया में 44208, दर्री में 41888, दाढ़ी में 55604, देवकर में 44171, देवरबीजा में 57908, नवांगांवकला में 34710, नवागढ़ में 79294.4, नांदघाट में 49264, नारायणपुर में 41157.6, नेवसा में 46712, पतोरा में 55432, पदमी में 38391,पदुमसरा में 56731, परपोड़ी में 24755, परपोड़ा में 36740, परसबोड़ में 29213.6, पुटपुरा में 70334, पेण्ड्रीतराई में 62283 ,प्रतापपुर में 40364, बदनारा में 55792, बनरांका में 37252, बसनी में 28283, बांसा में 48890, बांरगांव में 56346, बालसमुंद में 38857,बिटकुली में 48988, बीजा में 36151, बीजाभाठा में 42140, बुंदेला में 55170, बेमेतरा में 43670, बेरला में 44942, बेलतरा में 41164, बोरतरा में 42575, बोरतरा में 45750, भटगांव में 41905.6, भदराली में 15455.2, भरदा में 36022, भिंभौरी में 47704, भैंसा में 45662, मंझगांव में 42746, मऊ में 50401, मल्दा में 36847, मारो में 41002, मावलीभाठा में 36486, मासूलगोंदी में 18232, मुरता में 67653, मोहगांव में 49284, मोहतरा (साजा) में 43444, मोहतरा में 47919, मोहभट्ठा में 35686, मोहरेंगा में 50374, रनबोड़ में 52078, राखी में 14852, लेंजवारा में 58830, लोलेसरा में 42747, सम्बलपुर में 70640, सरदा में 53040, सलधा में 50118, सहसपुर में 39879,साजा में 42006, सिलघट में 38580, सेमरिया में 58134, सैगोना में 54741, सोढ में 68570, सोमईकला में 28282, हाटरांका में 40832, हसदा में 67536, हाठाडांडू में 43617 क्विंटल धान की खरीदी की गई है।

'कुछ भी फॉरवर्ड करने से पहले 10 बार सोचें', फेक न्यूज पर बोले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

जिले के 123 उपार्जन केन्द्रों मे उपार्जित धान को केप कव्हर एवं तारपोलिन से ढक कर रखे जाने के निर्देश हैं। धान को पूरा सुरक्षित रखने हेतु कलेक्टर ने उपार्जन केन्द्र स्तर नोडल अधिकारी जिला नोडल अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी के साथ समस्त राजस्व खाद्य एवं सहकारिता विभाग को सतत् निरीक्षण करने हेतु निर्देशित किये हैं। कलेक्टर द्वारा जिले के धान उपार्जन केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण भी नियमित किया जा रहा है अनियमिता पाये जाने पर समिति प्रबंधकों को निलंबित एवं कारण बताओ नोटिश जारी कर कार्यवाही की गई है।

 

उपार्जन केन्द्रों में नियमित रूप से टोकन अनुसार धान की खरीदी कराई जा रही हैं। धान खरीदी का कार्य 07 फरवरी 2022 तक किया जायेगा। सभी किसान भाईयों से निवेदन है कि वे अपने धान को विक्रय करने हेतु अपने संबंधित समिति में 04 फरवरी 2022 तक अनिवार्य रूप से टोकन कटा लेंवें।

 

©नवागढ़ मारो से धर्मेंद्र गायकवाड़ की रपट    

Related Articles

Back to top button