.

देश की मिट्टी | ऑनलाइन बुलेटिन

©ममता आंबेडकर

परिचय- गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश


 

 

हमारा भारत देश खुशियों

का खजाना है

 

इतना मनभावन लोग ढूंढते

यहां आने का बहाना है

 

यहां विदेशी भी घूमने आते हैं

मन मोहित होकर जाते हैं

 

हरी भरी वादियों ने

सबका मन हरसाया है

 

इतिहास गवाह है आने के बाद

कौन यहां से जा पाया है

 

मेघालय चेरापूंजी की बात

निराली है

 

इस धरा के चरण चूमता नीलगगन है

 

बारिश की बूंदों ने बाग

बगीचों को खूब भिगोया है

 

खुशबू से महकती है मेरे

देश की मिट्टी

 

वीर जवानों को याद दिलाती है

मां बहनों की चिट्ठी

 

 

आगरा में ताज महल की

असीम सुंदरता जो

 

प्रेम की निशानी है जो यहां

पर घूमने आता है

 

वो यही के गुण गाता है

निशानी के तौर पर

 

यहां की यादें कैमरे में कैद

कर ले जाता है

 

कश्मीर की हसीन वादियां

वश में कर लेती है

 

बर्फ से ऊंचे पहाड़ और

पेड़ पौधे प्रकृति

 

के रंग हर मौसम खुशियों

की गाथा गाता है

 

दार्जलिंग भी पहाड़ियों की

रानी कहलाता है

 

खुबसूरत हरे भरे चाय के बागान

मन को खूब लुभाते हैं

 

भारत देश में छह ऋतुओं

को एकसाथ में देखा

जाता है

 

कन्याकुमारी की अजब

कहानी हैं असीमित पानी है

 

एक ओर अरब सागर दूसरी

और हिन्द महासागर

 

तीसरी तरफ बंगाल की

खाड़ी है

 

हावड़ा ब्रिज की भी पहचान

न्यारी है

 

राजथान में गुलाबी शहर

भी फेमस है

जीवन की किताब | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

जयपुर में हवा महल को

भी

दूर दूर से लोग देखने आते हैं

 

भारत की राजधानी दिल

वालों की

 

दिल्ली के नाम से मशहूर है

यहां पर लोग देश विदेश

से घूमने आते हैं

 

 

निडर और अमर कहानी

वीर सपूतों की

 

जिनके आगे दुश्मन भी

टिक नहीं पाते हैं

 

तभी तो हमारा भारत देश महान कहलाता है

 

पर्यटन दिवस पर समस्त देश वासियों को हार्दिक मंगल कामनाएं …

 

 

एक अच्छे पड़ोसी बने लेकिन जासूसी न करे | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button