.

डॉक्टर doktar

©उषा श्रीवास, वत्स

परिचय– बिलासपुर, छत्तीसगढ़.


 

 

डॉक्टर से है देश की पहचान,

करना इनका सदा सम्मान।

 

गौरव सामाज का ये बढ़ाते

सेवा भाव से आगे बढ़ जाते,

हौसले सदा इनके बढ़ाएं

बीमारी से ये हमें बचाएँ।

 

डॉक्टर हकीम में करना न अंतर

आते हैं ये काम निरंतर,

विश्वास इन पर तुम करना

त्याग तपस्या का है गहना।

 

दवा दुआ जिन्दगी इनसे

हैं सारे जग की शान,

अब तो सबका यह कहना

स्वास्थ्य की है ये पहचान।

 

जो शक इन पर करता

वह सिर्फ मुश्किलों में पङता,

करना सदा इनका सम्मान

मिलेगी राहत और समाधान।

 

बाधाएँ होती हैं

चंद दिनों की मेहमान,

गौरव के ये अधिकारी

रखना इस बात का सदैव ध्यान।

 

 

 

उषा श्रीवास, वत्स

Usha Shriwas, vats

 

 

Doctor

 

 

 

The country’s identity is from the doctor,
Always respect them.

 

This increases the pride of the society
Moving ahead with the spirit of service,
encourage them always
Save us from disease.

 

Do not differentiate between Dr. Hakeem
This work comes continuously,
believe in you
Renunciation is the jewel of penance.

 

medicine dua life from them
is the pride of the whole world,
now everyone says this
This is the hallmark of health.

 

who doubts them
He only finds himself in trouble,
always respect them
Relief and solution will be found.

 

there are obstacles
guest for a few days,
These officers of pride
Always keep this in mind.

 

 

 

 

 

आईना कुछ कहता है aaeena kuchh kahata hai

 

Related Articles

Back to top button