.

प्रियतम तुम कब आओगे priyatam tum kab aaoge

©उषा श्रीवास, वत्स

परिचय– बिलासपुर, छत्तीसगढ़.


 

 

जब स्वच्छ चाँदनी मंद मंद

कोई गीत नया सुनायगी,

पुलकित होकर ओस की बूंद

धरती पर जब छा जाएगी।

 

उसकी मौन स्वीकृति को

तुम शब्दों से दोहराओगे,

प्रियतम तुम कब आओगे।

 

जब होठों से मुस्कान ढ़लकर

गुलाबी गालों पर ठहरे होंगे,

जब काजल के शब्दों ने

कुछ गीत नए लिखे होंगे।

 

 

इन गीतों के शब्दों

तुम मुझे सुनाओगे,

प्रियतम तुम कब आओगे।

 

जब आँखों की हंसी को

पन्नों पर मुखरित करेगी,

प्रेम गजल बनकर वो

मन मंदिर को हर्षित करेगी।

 

तब तुम कान्हा की बांसुरी बन

तन मन को महकाओगे,

प्रियतम तुम कब आओगे।

 

 

उषा श्रीवास, वत्स

Usha Shriwas, vats

 

 

 

when will you come dear

 

 

 

when the clear moonlight dimmed
Will hear a new song,
blinking dew drop
When the earth will fall

his tacit approval
you will repeat with words,
When will you come dear?

when the smile falls from the lips
Would have stayed on rosy cheeks,
When Kajal’s words
Some songs must have been written new.

words of these songs
you will tell me
When will you come dear?

when the eyes laugh
will mark on the pages,
By becoming a love ghazal
The mind will make the temple happy.

Then you become Kanha’s flute
You will smell the body and mind,
When will you come dear?

 

 

यौवन की उम्र प्राप्त कर चुकी नाबालिग मुस्लिम लड़की पर भी लागू होगा पॉक्सो yauvan kee umr praapt kar chukee naabaalig muslim ladakee par bhee laagoo hoga pokso https://onlinebulletin.in/court-bulletin/yauvan-kee-umr-praapt-kar-chukee-naabaalig-muslim-ladakee-par-bhee-laagoo-hoga-pokso-pocso-will-also-apply-to-a-minor-muslim-girl-who-has-attained-the-age-of-puberty

यदुवंशम: योगेश्वर श्रीकृष्ण yaduvansham: yogeshvar shreekrshn
READ

 

 

 

 

 

Related Articles

Back to top button