.

निवेश से पहले जान ले ये नियम, नहीं तो हो सकता है पैसों का नुकसान | PPF Account

PPF Account : नई दिल्ली | [बिजनेस बुलेटिन] | There are crores of PPF account holders in our country, so if you want to withdraw money in between, then before withdrawing money, know the tax rules related to PPF account. Because withdrawing money from PPF account in the middle can cause you a lot of loss. Therefore, if someone suddenly needs money, then by following these rules, you can withdraw money from your PPF account before the completion of maturity, but the amount withdrawn in between will come under the ambit of tax.

 

ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन : हमारे देश में करोड़ो PPF अकाउंट होल्डर्स है, ऐसे में अगर आप बीच में भी पैसा निकालना चाहते हैं तो पैसा निकालने से पहले पीपीएफ खाते से संबंधित टैक्स नियम जान लीजिए. क्योंकि पीपीएफ खाते से बीच में ही पैसा निकालने पर आपको काफी नुकसान हो सकता है. इसलिए अगर किसी को अचानक पैसों की जरूरत पड़ जाए, तो इन नियम को फॉलो करके अपने पीपीएफ खाते से मैच्योरिटी के पूरा होने से पहले पैसा निकाल सकते हैं, लेकिन बीच में ही निकाली गई राशि टैक्स के दायरे में आ जाएगी. (PPF Account)

PPF Account

पब्लिक प्रोविडेंट फंड यानि PPF में इन्वेस्टमेंट स्कीम मौजूदा समय में लोगों के लिए अच्छा विकल्प है. क्योंकि इसमें ग्राहकों को अच्छी ब्याज दरों के साथ टैक्स छूट का फायदा मिलता है. इसलिए इस स्कीम में ज्यादातर आम लोग निवेश करना पसंद करते हैं. क्योंकि सरकार की यिस योजना में ग्राहक बिना किसी टेंशन के अपना पैसा निवेश कर सकता है. इस स्कीम के तहत 500 से खाता खोल कर निवेश की शुरुआत की जा सकती है. (PPF Account)

पेटीएम ने शुरू किया नई सर्विस! बस इस फीचर को करना होगा एक्टिवेट | Paytm UPI Lite
READ

 

पीपीएफ योजना नियम

 

निवेशकों को ध्यान देना चाहिए कि पीपीएफ खातों पर ब्याज दर की गणना महीने के पांचवें दिन और महीने के आखिरी दिन के बीच न्यूनतम शेष राशि पर की जाती है. इसलिए, जब कोई हर महीने की पांचवीं तारीख से पहले पैसा जमा करता है, तो वह पूरे महीने के लिए ब्याज कमा सकता है. लेकिन अगर कोई इसे महीने के पांचवें दिन के बाद करता है, तो वह उस विशेष महीने के लिए पर्याप्त ब्याज आय खो देगा. जिससे पैसों का नुकसान होता है. (PPF Account)

 

पीपीएफ स्कीम

 

पीपीएफ योजना के नियमों पर ध्यान देना चाहिए कि ब्याज की गणना मासिक आधार पर की जाती है, लेकिन वित्तीय वर्ष के अंत में यानी 31 मार्च को निवेशक को जमा किया जाता है. इसलिए, यदि कोई व्यक्ति मासिक आधार पर निवेश कर रहा है, तो उसे उच्च ब्याज अर्जित करने के लिए यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पैसा हर महीने की पांचवीं तारीख से पहले जमा किया जाता है. (PPF Account)

 

5 अप्रैल और वार्षिक ब्याज

 

उपरोक्त सिद्धांत के आधार पर जब कोई निवेशक 5 अप्रैल से पहले 1.5 लाख रुपये डालता है तो वह 5 अप्रैल और महीने के अंत के बीच सबसे कम खाते की शेष राशि पर 7.1 प्रतिशत (वर्तमान ब्याज दर) की दर से ब्याज अर्जित करेगा. उदाहरण के लिए सबसे कम बैलेंस 1.5 लाख रुपये है. नियमों के अनुसार निवेशक को वित्त वर्ष के अंत में 5 अप्रैल से पहले जमा किए गए 1.5 लाख रुपये पर 10,650 रुपये का ब्याज मिलेगा. वहीं, अगर वह 5 अप्रैल के बाद ऐसा करता है तो उसे पहले महीने के ब्याज से हाथ धोना पड़ेगा. (PPF Account)

डूब ही नहीं सकते हैं भारत के ये तीन बैंक, हमेशा सुरक्षित रहेगा इसमें आपका पैसा | RBI D-SIBs List
READ

 

पीपीएफ ब्याज

 

फिर पूरे वित्तीय वर्ष के लिए व्यक्ति केवल 11 महीनों के लिए ब्याज अर्जित करेगा, जिसमें अप्रैल का महीना शामिल नहीं होगा. पूरे साल के लिए, यह 7.1 प्रतिशत की मौजूदा ब्याज दर पर 1.5 लाख रुपये की जमा राशि पर 9,762.50 रुपये हो जाएगा. (PPF Account)

 

चक्रवृद्धि ब्याज

 

पीपीएफ योजना एक लंबी अवधि की निवेश योजना है और चक्रवृद्धि ब्याज के सिद्धांत पर आधारित है. स्कीम में 15 साल का लॉक-इन पीरियड है. यदि कोई निवेशक हर साल 1 अप्रैल से 5 अप्रैल के बीच 15 साल के लिए समय-समय पर और व्यवस्थित रूप से निवेश करता है तो वह 15 साल के अंत में परिपक्वता पर 18,18,209 रुपये और परिपक्वता राशि 40,68,209 रुपये कमा सकता है. (PPF Account)

 

निवेशक

 

इसके अलावा, प्रत्येक वित्तीय वर्ष में एक बार में निवेश करना भी मासिक जमा के लिए बेहतर है. यदि कोई व्यक्ति हर महीने की पांचवीं तारीख से पहले 12,500 रुपये का पीपीएफ निवेश करता है, तो व्यक्ति 15 साल बाद परिपक्वता के समय 39,44,599 रुपये की राशि अर्जित करेगा. जबकि, वह एक वित्तीय वर्ष के 1 अप्रैल से 5 अप्रैल के बीच पीपीएफ खाते में एकमुश्त निवेश करके 1,23,610 रुपये का अतिरिक्त ब्याज कमा सकते हैं. (PPF Account)

 

ब्याज राशि

 

हालांकि, अगर निवेशक इसे 15 साल तक हर वित्तीय वर्ष में अंतिम समय में करता है, तो उसे 18,18,209 रुपये के बजाय 15,48,515 रुपये का ब्याज मिलेगा. मैच्योरिटी अमाउंट भी 40,68,209 रुपए की जगह 37,98,515 रुपये हो जाएगा. (PPF Account)

 

 

सोशल मीडिया

 

AIIMS ऋषिकेश में प्रोफेसर के पदों पर SC,ST और OBC कैटेगरी के उम्मीदवारों के लिए निकली भर्ती, ऐसे करना है आवेदन । AIIMS Rishikesh Recruitment 2023
READ

फेसबुक ग्रुप में जुड़े

 

व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े

 

ONLINE bulletin dot in में प्रतिदिन सरकारी नौकरी, सरकारी योजनाएं, परीक्षा पाठ्यक्रम, समय सारिणी, परीक्षा परिणाम, सम-सामयिक विषयों और कई अन्य के लिए onlinebulletin.in का अनुसरण करते रहें.

 

* अगर आपका कोई भाई, दोस्त या रिलेटिव इन भर्तियों के लिए एलिजिबल है तो उन तक यह जरूर पहुंचाएं।

 

ये खबर भी पढ़ें:

आंगनबाड़ी सहायिका एवं कार्यकर्ताओं के पदों के लिए आवेदन आमंत्रित | Anganwadi Bharti 2023

 

Related Articles

Back to top button