.

विधायक गुप्ता के आदमी चक्कजाम को सफल बनाने हिंसा कर रहे थे, इस बीच जूही की पेट में एक गोली आकर लगी, और वह जमीन पर गिर पड़ी …. पढ़ें कहानी जूही की महक का 18 वां भाग | ऑनलाइन बुलेटिन

©श्याम कुंवर भारती

परिचय- बोकारो, झारखंड


 

जब जूही और कुमार अपने दल बल के साथ बाजार के मुख्य चौराहे पर पहुंचे तो देखा विधायक अभी भी माइक पर भड़काऊ भाषण दिए जा रहा है और उसके आदमी गाड़ियों में तोड़ फोड़ किए जा रहे हैं। कई गाड़ियां धू धू कर जल रही है। चौराहे के चारों तरफ गाड़ियों को लंबी कतार लगी हुई है। कई गाड़ियों में पुरुष, औरतें और बच्चे बैठे है। सभी परेशान और डरे हुए लग रहे थे।

 

जूही ने अपनी गाड़ी में लगे हुए लाउडस्पीकर से विधायक को संबोधित कर कहा – विधायक जी आपको सरकार का विरोध करना है करें, मगर आंदोलन के नाम पर इस तबाही और उत्पात मचाना सही नहीं है। सरकारी और प्राइवेट संपत्तियों का नुकसान मत करवाएं। अपना आंदोलन शांति से करें, हमें कोई आपत्ति नहीं है। गाड़ियों को जाने दें। कोई तोड़ फोड़ और आगजनी न होने पाए।

 

विधायक ने जवाब में कहा, हमारा आंदोलन इसी तरह चलेगा मैडम, अगर आपने रोकने की कोशिश किया तो अंजाम बहुत बुरा होगा।

 

जूही ने समझाते हुए कहा मैं आखिरी बार आपसे अनुरोध करतीं हूं कि आप कानून को तोड़ रहे हैं। इसका आपको बहुत बड़ा दंड भरना पड़ सकता है। इसलिए शांति से आंदोलन करें और बाकी उत्पात बंद कराएं। वरना अब हम जो कदम उठाएंगे उसका आपको अंदाजा भी नहीं है।

 

जाओ जाओ बहुत देखे हैं तुम्हारे जैसे वीडियो। मेरी ताकत का तुम्हें अंदाजा भी नहीं है। विधायक ने ललकारते हुए कहा। जो करना है करके देख लो।

क्राइम स्टोरी: लोक गायक ने अपने जुर्म के बदले दूसरे युवक को जेल भेजा, फिर की हत्या kraim storee: lok gaayak ne apane jurm ke badale doosare yuvak ko jel bheja, phir kee hatya
READ

 

जूही ने कुमार से कहा आप अपने जवानों से कहे जाम तोड़वाएं। गाड़ियों को निलावाएं और आवागमन चालू करवाएं अगर कोई विरोध करे उसके खिलाफ कड़ा एक्सन लें।

 

कुमार ने जवानों को जैसे ही आदेश दिया। पुलिस बल हरकत में आ गई। गाड़ियों को आगे बढ़ाना शुरू कर दिया। इससे नाराज होकर विधायक ने अपने लोगों को लाठी डंडों से पुलिस पर हमला करने का ऐलान किया। जूही ने तुरंत कुमार से कहा आप भी पुलिस बल को आदेश दे दंगाइयों पर लाठी चार्ज करने का। पुलिस ने विधायक के आदमियों को लाठियों से पीटना शुरू किया। इससे उन लोगों में भगदड़ मच गई। कुछ लोगों ने पुलिस बल पर पत्थर बरसाना शुरू कर दिया। कई जवानों को चोटें भी आई उन्हें एंबुलेंस से तुरंत अस्पताल भेजा गया। पुलिस के दूसरे दल ने आंसू गैस के गोले छोड़ना शुरू किया। मगर विधायक के अन्य गुंडों ने फिर पत्थर बरसाना शुरू कर दिया। काफी देर तक हंगामा चलता रहा। इतने में हथियारों से लैस काफी संख्या में गुंडों का दल ने आकर पुलिस पर बम और गोलियां चलाना शुरू किया।

 

जूही ने लाउड स्पीकर पर चिल्ला कर कहा – फायर करो सब पर। अब कोई भी आतताई नहीं बचना चाहिए। इतना सुनते ही कुमार के जवानों ने मोर्चा खोल दिया। दनादन गोलियां चलाना शुरू किया। विधायक के लोगों में भगदड़ मच गई। मगर विधायक उनको उकसाता रहा। वे लोग फिर पत्थर और गोलियां बरसाने लगे। जूही ने फिर अपने जवानों को ललकारते हुए कहा आज आप लोगों को पुलिस की ताकत दिखा देना है। टूट पड़ो सब पर एक भी गुंडा बचने न पाए। जूही गुस्से से लाल हो गई थी।

उकसावे वाली ड्रेस पहनी तो नहीं बनता यौन उत्पीड़न का केस, टिप्पणी पर मचा विवाद ukasaave vaalee dres pahanee to nahin banata yaun utpeedan ka kes, tippanee par macha vivaad
READ

 

पुलिस ने गुंडों को पीछे धकेलना शुरू कर दिया। कितने गुंडे मारे गए। कितने बुरी तरह घायल होकर जमीन पर गिरने लगे। पुलिस के जवान भी काफी संख्या में घायल हो रहे थे जिनको तुरंत अस्पताल पहुंचाया जा रहा था। जितने पुलिस बल घायल हो रहे थे उतने पुलिस के दूसरे जवान तुरंत शामिल किए जा रहे थे। गुंडों को पुलिस ने बहुत पीछे तक धकेल दिया था।

 

जुही ने कुमार से कहा बाजार के बाहर जो जवान तैनात है उनसे कहे वे अब गुंडों को घेरे पीछे से कोई बचना नहीं चाहिए। या तो सभी जिंदा पकड़े जाएं या अगर वे लोग फायरिंग करते हैं तो जवाबी कार्रवाई में उनपर भी गोली चला दें। कुमार ने कहा ठीक है मैडम।

 

जूही ने फिर कहा कुमार साहब अपने लोगों से कहें विधायक को चारों तरफ से घेर कर गिरफ्तार करें।

 

लेकिन तब तक विधायक फरार हो चुका था। वो कहीं नजर नहीं आ रहा था। जूही भी काफी आगे निकल आई थी पुलिस बल की अगुवाई करते हुए तभी कही से एक गोली आकर उसके पेट में लगी और वो चीखकर जमीन पर गिर पड़ी। पेट से खून बहना शुरू हो गया था। जमीन उसके खून से तर बतर होने लगी थी।

 

कुमार ने तुरंत उसको उठाया और एंबुलेंस लाने के लिए चिल्लाया। एंबुलेंस आते ही उसने कुछ जवानों के साथ जूही को अस्पताल भेज दिया।

 

उसका गुस्सा सातवें आसमान पर था। उसने अपने जवानों को ललकारते हुए सालों को गोलियों से छलनी कर दो एकभी हरामजादा बचने न पाए।

…जूही की बात सुन विधायक की त्योरी चढ़ गई, कहा- इस विषय पर कोई बात नहीं होगी, तुम जाओ मैं पूरे प्रखंड का चक्काजाम करा दूंगा, तुम्हारे ऑफिस में ताला लगवा दूंगा … पढ़ें जूही की महक भाग-9 …joohee kee baat sun vidhaayak kee tyoree chadh gaee, kaha- is vishay par koee baat nahin hogee, tum jao main poore prakhand ka chakkaajaam kara doonga, tumhaare ophis mein taala lagava doonga … padhen joohee kee mahak bhaag-9
READ

 

आखिरकार बहुत सारे गुंडे पकड़े गए। कुछ घायल हुए और कुछ मारे भी गए। मगर विधायक का कहीं पता न चला। पुलिस ने जाम खुलवा दिया। लोगों ने राहत की सांस लिया मगर जूही के घायल होने की खबर से सभी मर्माहत थे। सबलोग ऐसी बहादुर और ईमानदार वीडियो के जिंदगी की सलामती के लिए ईश्वर से प्रार्थना कर रहे थे।

 

शेष अगले भाग- 19 में।

लेखक- श्याम कुंवर भारती।

 

 

 

खत्म होगी नक्सलियों की दहशत! छत्तीसगढ़, झारखंड, ओडिशा समेत पांच राज्यों की पुलिस कसेगी नकेल | ऑनलाइन बुलेटिन

 

 

 

Related Articles

Back to top button