.

Vicharpushpa: Importance of colors of nature vichaarapushp : svabhaav ke rangon ka mahatv

©Poonam Sulane

Introduction – From Srinagar….


 

The life of all of us is made up of different colors, as many people are around us, we all get to see the nature of the same colors.

 

Just as it is not necessary that everyone likes every color, in the same way, it is not necessary that every person should like the nature of every person.

 

Everyone has their own choice, just like if a person likes yellow color and you put any color in front of him, he will not be happy.

 

This does not mean that only yellow is the most important color in the world and the rest of the colors are useless because whether one likes it or not, but the importance of any color can never be diminished because,, every color, every one. It is different from color, beautiful in itself and when all these colors come together then a beautiful rainbow is formed.

 

In the same way, whatever the color of human nature is in our life, whether we like it or not, we still do not need to change them or understand them more or less than ourselves, because they are their own. Nature is what they have decided themselves and just as the importance of any color is not reduced by liking or not liking someone, similarly the nature of any person can never change by liking or not liking it.

 

Therefore, it is better to change the nature of any person or like or dislike him, that we understand the importance of our color. Colors shine, keep your contact with people of the same thoughts whose color of nature matches with the color of your nature.

हमारे राम | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

Everyone is important in himself, but the way the right color is filled in the picture in the right way, then those colors make any simple picture the most precious and if the same color falls on that picture, then they will erase the whole picture. In the same way, the colors of human nature also come to fill us in the right quantity in the picture of our life, then the picture of life becomes very beautiful and priceless. But, in this life, if we start giving more importance to the colors of the nature of people, then you will not even know when the beautiful picture of life will become colorless.

 

If we want to fill our life with beautiful colors, then first of all we have to know the importance of the color of our nature.

 

The day we will understand the color of our nature in the right way, day after day we will not change the thoughts of our mind according to the nature of a person, but people who connect with our thoughts matching us according to the colors of our thoughts will find us. They will reach us and those people whose thoughts do not match the colors of our thoughts, those people will automatically go on leaving behind. With this thought, keep busy in good deeds in your life, and stay healthy always.

 

Good day to you all…!!

 

 

 

 

पूनम सुलाने-सिंगल

©पूनम सुलाने-सिंगल

परिचय- श्रीनगर से….


 

 

 

अलग-अलग रंगों से हम सब का जीवन बना हुआ है, जितने व्यक्ति हमारे आसपास होते हैं उतने ही रंगों के स्वभाव हम सभी को देखने के लिए मिलते हैं।

 

बचपन का खेल – काँचा bachapan ka khel Kaancha
READ

जिस तरह जरूरी नहीं कि, हर एक रंग सभी को पसंद आए ठीक उसी तरह जरूरी नहीं हर एक व्यक्ति का स्वभाव हर किसी व्यक्ति को पसंद आए।

 

सबकी अपनी-अपनी पसंद होती है जिस तरह अगर किसी एक व्यक्ति को पीला रंग पसंद हो और उसके सामने आप कोई भी रंग रख दो उसे खुशी नहीं होगी।

 

इसका मतलब यह तो नहीं होता कि, दुनिया में केवल पीला रंग ही सबसे महत्वपूर्ण है और बाकी रंग बेकार है क्योंकि कोई पसंद करें या ना करें मगर किसी भी रंग का महत्व कभी भी कम नहीं हो सकता क्योंकि,,हर एक रंग, हर एक रंग से अलग है, अपने आप में ही सुंदर है और जब यह सारे रंग एक साथ मिलते हैं तभी एक सुंदर इंद्रधनुष बनता है।

 

ठीक उसी तरह हमारे जीवन में भी इंसानों के स्वभाव के जो भी रंग है,वो भले ही हमें पसंद हो या ना हो,तब भी हमें उन्हें बदलने की या फिर उन्हें अपने से ज्यादा या कम समझने की जरूरत नहीं है क्योंकि, वो उनका अपना स्वभाव है जो उन्होंने खुद तय किया है और जिस तरह किसी भी रंग का महत्व किसी के पसंद करने या न करने से कम नहीं होता ठीक उसी तरह किसी भी व्यक्ति का स्वभाव किसी के पसंद करने या ना करने से कभी बदल नहीं सकता।

 

इसलिए,किसी भी व्यक्ति के स्वभाव को बदलने या फिर उसे पसंद या नापसंद करने से अच्छा है कि, हम अपने रंग के महत्व को समझें हम अपने स्वभाव के अनुसार उन लोगों के साथ जुड़ने की कोशिश करें जिनके साथ रहने से हमारे मन के विचारों के रंगों में निखार आता हो, उन्हीं विचारों के लोगों से अपना संपर्क रखें जिनके स्वभाव के रंग आपके स्वभाव के रंग से मेल खाते हो।

हाँ, मुझको कुछ कहना है haan, mujhako kuchh kahana hai
READ

 

हर कोई अपने आप में महत्वपूर्ण है मगर जिस तरह सही रंग सही तरीके से चित्र में भरे जाए तो वह रंग किसी भी साधारण से चित्र को सबसे कीमती बना देते हैं और वही रंग अगर उस चित्र पर गिर जाए तो वे पूरे चित्र को ही मिटा देते हैं, ठीक उसी तरह इंसानों के स्वभाव के रंग भी हमें अपने जीवन के चित्र में सही मात्रा में भरने आ गए तो जीवन का चित्र सही में बहुत सुंदर और अनमोल बन जाता है मगर, इसी जीवन में अगर हम व्यक्तियों के स्वभाव के रंगों को जरूरत से अधिक महत्व देने लग जाए तो जीवन का सुंदर चित्र कब बेरंग हो जाएगा आपको पता भी नहीं चलेगा।

 

अपने जीवन को अगर हमें खूबसूरत रंगों से भरना है तो सबसे पहले अपने स्वभाव के रंग का महत्व हमें जानना होगा।

 

जिस दिन हम अपने स्वभाव के रंग को सही तरीके से समझ जाएगे दिन के बाद हम किसी व्यक्ति के स्वभाव के अनुसार अपने मन के विचारों को नहीं बदलेंगे,बल्कि हमारे विचारों के रंगों के अनुसार हमसे मेल खाने वाले हमारे विचारों से जुड़ने वाले लोग हमें ढूंढते हुए हम तक पहुंच जाएंगे और जिन व्यक्तियों के विचारों से के रंगों से हमारे विचारों के रंग मेल नहीं खाते वे व्यक्ति अपने आप पीछे छूटते चले जाएंगे। इसी विचार के साथ अपने जीवन में अच्छे कर्मों में व्यस्त रहिए, और हमेशा स्वस्थ रहिए।

 

आप सभी का दिन शुभ हो…!!

 

 

 

gam de gaya maanavata ke yaar ka jaana !! गम दे गया मानवता के यार का जाना !!

Related Articles

Back to top button