.

सीएम भूपेश बघेल बोले: आदिवासियों, वनवासियों के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं को लागू कर बेहतर ढंग से हो रहा क्रियान्वयन | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

रायपुर | [धर्मेंद्र गायकवाड़] | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राजधानी रायपुर के होटल में आयोजित शिखर सम्मान कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने इस दौरान समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित भी किया।

 

मुख्यमंत्री बघेल ने कार्यक्रम में परिचर्चा के दौरान कहा कि हमारी सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ को एक समृद्ध और सशक्त राज्य बनाने के लिए हर संभव पहल की जा रही है। इसके तहत यहां निवासरत हर वर्ग के लोगों की आय में वृद्धि हमारा मुख्य ध्येय है।

 

इनमें किसानों के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना, पशुपालकों के लिए गोधन न्याय योजना, भूमिहीन गरीब मजदूरों के लिए राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना तथा आदिवासी-वनवासियों के लिए लघु वनोपजों की समर्थन मूल्य पर खरीदी जैसे जनकल्याणकारी योजनाओं को लागू कर इनका बेहतर ढंग से क्रियान्वयन हो रहा है।

 

जिसके परिणाम स्वरूप प्रदेश में सभी वर्ग के लोगों को आगे बढ़ने का बेहतर अवसर मिल रहा है।

 

मुख्यमंत्री बघेल ने आगे बताया कि इनके साथ-साथ नरवा, गरवा, घुरवा एवं बाड़ी योजना, मिलेट मिशन, आत्मानंद शालाएं, हाट-बाजार क्लीनिक आदि योजनाओं से शिक्षा तथा स्वास्थ्य सहित हर क्षेत्र में प्रगति दिखाई दे रही है। इससे लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध हुए हैं और उनकी आय में वृद्धि भी हो रही है।

 

इस तरह हमारी सरकार द्वारा पुरखों के सपने को साकार करते हुए छत्तीसगढ़ को एक समृद्ध तथा सशक्त राज्य के रूप में पहचान देने का कार्य निरंतर जारी है।

 

इस अवसर पर लोक गायन के क्षेत्र में पद्मश्री-श्री अनुज शर्मा, कबीर भजन गायन में पद्मश्री-श्री भारती बंधु, लोक वादन (बस्तर बैंड) में पद्मश्री-श्री अनूप रंजन पांडे सहित विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य के लिए व्यक्तियों को सम्मानित किया गया।

सांची स्तूप: पांच फीट ऊंचा पत्थर का भिक्षापात्र. उसी में भिक्षा को मिलाना और बांटकर खाना | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन
READ

 

ये भी पढ़ें :

ये कैसा प्यार है | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

Related Articles

Back to top button