.

मेरा देश mera desh

©संजय वासनिक, वासु

परिचय- चेंबुर, मुंबई.


 

 

 

मेरा देश महान है

मेरा स्वतंत्र भारत महान है,

स्वतंत्रता का सम्मान है

स्वतंत्रता के लिये मेरे

पुर्वजों का बलिदान है

उन सबको मेरा सलाम है

 

सलाम है उनको मेरा

जिन्हें तिरंगे का सम्मान है

सरहदों पर जो जवान है

देश की रक्षा का प्रमाण है

 

सलाम है उनको मेरा

जिन्हें रोगियों की जान है

रात दिन मेहनत करते

उनके सेवा का वरदान है

 

सलाम है उनको मेरा

झंडा लेकर रास्ते काटकर

शहर शहर घर घर पहुँचाते

हर ज़रूरत का सामान है

 

सलाम है उनको मेरा

झाडु लेकर घर रास्ते

गलियाँ शहर का कोना कोना

रखते साफ़ सुथरा है

परवाह उन्हें आपके स्वास्थ्य की

जब की उनकी जाती के

नाम पर होते बदनाम है

 

आज भी इंसानियत की

जगह पर हैवानियत का

हावी हुआ शैतान है

मासूमों की हत्या कर

स्वयंघोषित महान है

 

क्या ये सच में स्वतंत्रता का

सच्चा प्रमाण है या अब भी मेरा देश

उचनिच के, जाती पाती के,

धर्म अधर्म के, अमीर गरीब के

परतंत्र के जंजाल मे फँसा हुआ

केवल रचता स्वतंत्रता का

झुठला हुआ स्वाँग है !

 

 

संजय वासनिक

Sanjay Wasnik


 

 

My Country

 

my country is great
My independent India is great,
freedom is respected
for my freedom
Ancestor’s Sacrifice
I salute them all

I salute them
who have respect for the tricolor
the young man on the border
proof of country’s defense

I salute them
who care for patients
working day and night
their service is a blessing

I salute them
crossing the path with the flag
city ​​city door to door
has everything you need

I salute them
way home with a broom
lanes city corner
keeping it clean
they care about your health
when their caste
infamous in name

of humanity today
savage on the spot
the devil dominates
killing the innocent
self proclaimed is great

Is this really freedom
True proof or still my country
Unchinch,
religion of unrighteousness, rich of poor
entangled in the net
only creator of freedom
It’s a lie!

 

 

 

वतन की शान vatan kee shaan

 

 

 

Related Articles

Back to top button