.

साजिश अपने ही रचते हैं saajish apane hee rachate hain

©गुरुदीन वर्मा, आज़ाद

परिचय– बारां, राजस्थान.


 

गैरों को दोष क्या दूँ मैं, साजिश अपने ही रचते हैं।

सामने तो मुँह पर राम, बगल में चाकू रखते हैं।।

गैरों को दोष क्या दूँ मैं——————-।।

 

हो गया हूँ मैं बहुत बर्बाद, आबाद अपनों को करने में।

हो गया जग में बहुत बदनाम, भक्ति अपनों की करने में।।

अपने ही रचकर साजिश, आँसू जीवन में भरते हैं।

सामने तो मुँह में राम, बगल में चाकू रखते हैं।।

गैरों को दोष क्या दूँ मैं——————-।।

 

अपना हमदर्द समझकर, मोहब्बत उससे करता था।

जमाने में सबसे ज्यादा, उसकी इज्जत करता था।।

साजिश वो मुझसे करके, महलों में अब वो रहते हैं।

सामने तो मुँह में राम, बगल में चाकू रखते हैं।।

गैरों को दोष क्या दूँ मैं——————–।।

 

नहीं है अब चैनो- अमन, खूनी मंजर है वतन में।

जाति- धर्मों के झगड़े अब,बहुत है अपने वतन में।।

रचकर राष्ट्रवाद की साजिश, अपने राजनीति करते हैं।

सामने तो मुँह में राम, बगल में चाकू रखते हैं।।

गैरों को दोष क्या दूँ मैं——————–।।

 

 

गुरुदीन वर्मा

Gurudina Verma

 

 

plot your own

 

 

 

What should I blame the people, I make my own conspiracy.
In front, Ram keeps a knife on his face, beside him.
What should I blame on others——————-.

 

I have become so wasted, in doing things for my loved ones.
Has become very infamous in the world, in doing devotion to loved ones.
Conspiracy by creating your own, fills tears in life.
In front, Ram in his mouth, keep a knife in the side.
What should I blame on others——————-.

नारी होती है महान | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

Considering his friend, he used to love her.
Most of the time, respected him.
They conspired with me, now they live in palaces.
In front, Ram in his mouth, keep a knife in the side.
What should I blame on the people ——————–.

 

There is no peace now. There is peace, there is a bloody scene in the country.
Fights of caste-religion now, there is a lot in our homeland.
By creating a conspiracy of nationalism, they do their politics.
In front, Ram in his mouth, keep a knife in the side.
What should I blame on the people ——————–.

 

 

वीर सपूत veer sapoot

 

Related Articles

Back to top button